Archive for January, 2016

रजाई के लिये

रजाई के लिये सर्दी के मोसम मे एक स्टूडैन्ट अपने पापा को इंगलिश मे खत लिखता है
और गलती से रजाई की जगह लुगाई की इस्पेलिंग लिख देता है और जब पापा खत पडते है

आदरणीय पापाजी चरण स्पर्श मे यहां ठीक हू और आशा करता हू की आप लोग सब अच्छे से होगे

आगे समाचार यह है कि मेरी लुगाई पुरानी और बेकार हो गई है
और
यहॉ सर्दी अधिक पड रही है
अभी दोस्तो की लुगाइयों से काम चल रहा था
लेकिन
सर्दी अधिक पडने से वे भी अपनी लुगाई देने मे आना कानी करते है
मेरे लिये एक लुगाई का इंतजाम कर दो
नई ना ला सको तो बडे भैया की लुगाई भेज दो
बडे भैया की ना मिले तो मझले भैया की लुगाई भेज
दो
सर्दी मे बुरा हाल है
दो भाईयों मे से किसी एक की लुगाई जरूर भेज दो

दोनों मे से किसी की भी न भेज सको तो पैसे भेज दो मैं यहॉ किराये कि लुगाई ले लूंगा

Be the first to comment - What do you think?  Posted by admin - January 21, 2016 at 8:16 am

Categories: Relations   Tags:

Reality of Islam in India

No religion in this world promotes hatred – there is no one in this world who has the authority to kill anyone in the name of religion. Islam teaches to love. Not kill

Be the first to comment - What do you think?  Posted by admin - January 9, 2016 at 1:00 pm

Categories: World News   Tags:

Metal Detector Turns into Shower !

Be the first to comment - What do you think?  Posted by admin - at 10:34 am

Categories: Relations   Tags:

© 2010 PupuTupu.in